विश्लेषण: बरखेड़ा में भाजपा संघर्ष से बाहर, हेमराज को घेरने के भरसक प्रयास

 पीलीभीत। 128- बरखेड़ा विधान सभा सीट पर भी चुनाव बेहद रोचक होता जा रहा है। प्रदेश के खाद्य एवं रसद मंत्री और सपा के हेमराज वर्मा को घेरने के लिए बसपा ने पूरी ताकत लगा दी है। भाजपा यहाँ संघर्ष से बाहर दिख रही है तो भाजपा के बागी रालोद प्रत्याशी प्रवक्ता नन्द भी लोध किसान वोटो को काटने की भरसक कोशिश कर रहे हैं।  बरखेड़ा विधानसभा सीट पर अगर हम नज़र डालें तो इस सीट पर सपा का कब्ज़ा रहा है।सपा के हेमराज  मंत्री और विधायक बने हैं। इस सीट पर कुल 303051 मतदाता है। जाति गत आकडो पर अगर हम नज़र डालें तो सर्वाधिक 95 हज़ार लोध किसान वोट है। इसलिए कई पार्टियो ने यहाँ इसी बिरादरी के प्रत्याशी को उतारा है।इसके अलावा 60 हज़ार मुस्लिम, 24 हज़ार बंगाली, 20 हज़ार कुर्मी, 15 हज़ार दलित, 12 हज़ार सिख, 9 हज़ार बृहमण, 4 हज़ार ठाकुर और 8 हज़ार मौर्या वोटर हैं। मौजूदा विधायक हेमराज वर्मा सड़कों के जाल, बाईपास और अखिलेश यादव के  विकास कार्यो को लेकर मैदान में हैं । उनका कहना है कि उन्होंने इतने विकास कार्य कराये हैं कि विरोधी भी उनकी तारीफ करते हैं । बोले कि समाज के सभी वर्गों का समर्थन उनके साथ है। इसलिये उनकी जीत तय है। बोले कि यहाँ ज़ात पात पर नही विकास पर उन्हें वोट मिल रहा है। वे मुस्लिम वोटो का अधिकतर प्रतिशत अपने साथ होने से अपनी जीत तय मान रहे हैं। हालॉकि क़स्बा न्यूरिया में सपा के ही केबिनेट मंत्री हाजी रियाज़ के भांजे और चैयरमेन हिलाल अहमद ने  इस बार अपने कार्य कर्ताओं को बसपा में लगाया है। बसपा के उम्मीद वार डॉ शैलेंद्र गंगवार भी पूरी ताकत से मैदान में है। वे अपनी विरादरी के अलावा दलित और मुस्लिम वोटों के सहारे अपनी नैया खेने में लगे हैं।

Image 2017-02-12 at 8.58.49 AM

उनका कहना है कि कुर्मी के अलावा दलित और मुस्लिम उनके साथ है इसलिए उनकी जीत तय है। भाजपा  प्रत्याशी किशन लाल राजपूत यहाँ एक राजनीति का अपरचित नाम हैं वे ग्राम सेवक थे। लेकिन बताते हैं कि भाजपा नेता भवानी सिंह के क्रपा पात्र होने की वजह से टिकट पाने में कामयाब रहे शायद यही वजह है जो वे अभी तक संघर्ष में नही आ पा रहे हैं। विरोधी उनको लेकर तमाम दुष्प्रचार  भी कर रहे हैं कि उन्होंने भवानी सिंह को पजेरो गाडी देकर टिकट हथियाया हैं । जिससे उनका माहौल ही नही बन पा रहा है।उनसे अच्छा तो भाजपा के ही बागी व् रालोद के स्वामी प्रवक्ता नन्द उर्फ़ जय द्रथ चुनाव लड़ रहे हैं । भाजपा के ही कुछ कार्य कर्ताओ का दबी जुबान से कहना है कि ज़िले की सांसद मेनका गांधी ने भी अपने कार्य कर्ताओ को उनके साथ लगा दिया है।जिससे वे लोध किसान वोट में सेंध मारी कर रहे हैं । बहर हाल इस सीट पर भी बेहद रोचक मुकाबले के आसार नज़र आ रहे है।

 

 

 

तारिक कुरैशी, संपादक पीलीभीत लाइव

तारिक कुरैशी, संपादक पीलीभीत लाइव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *