पीलीभीत: शारदा के जलस्तर बढ़ने से परेशान ग्रामीण, बाढ़ की स्थिति उत्पन्न

पीलीभीत। पूरा उत्तर भारत घमासान बारिश से जूझ रहा है। आलम ये है कि कई गांव बारिश के पानी से डूूबने की कगार में है। पीलीभीत के भी हालात बारिश के चलते नाजुक बने हुए है। बारिश के कोहराम से सबसे ज्यादा पीडित किसान है।  शारदा नदी के बढ़ते जलस्तर ने किसानों की मुसीबत बढ़ा दी है। बारिश के चलते पानी का भराव तेजी से बढ़ रहा है। जिससे बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई। रविवार को शारदा नदी से दो लाख क्यूसेक पानी रिलीज हुआ था जिससे बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई थी। रविवार को बारिश तो कम हुई लेकिन आबादी के साथ कृषि फसलों में भी पानी भर गया था। लगातार हो रही बारिश और खेतों में पानी के ठहराव के कारण फसल के बर्बाद होने की संभावना बढ़ गई है।  कंजिया सिंहपुर व नलडेंगा में फसलों में भरा पानी काफी हद तक कम हो गया है लेकिन रमनगरा बुझिया में धान व गन्ने के खेतों में भरा पानी नहीं निकल सका। किसानों के अनुसार यदि बाढ़ एक बार फिर आती है तो धान की फसल पूरी तरह खराब हो जाएगी। शहर के कई गांव तालाब में तब्दील हो गए है। नौजल्हा नंबर दो में बांध बन जाने से कटान तो पूरी तरह से रुक गया, लेकिन लगातार हो रही बारिश और बाढ़ की वजह से दोनों ओर पानी भरने की स्थिति बन गई है। 

 

सोमवार को क्षेत्रीय विधायक पीतमराम ने मौके का जायजा लेने के लिए  नौजल्हा नंबर दो, कंजिया सिंहपुर, नलडेंगा, नगरियाखुर्दकलां व रमनगरा बुझिया का दौरा किया और ग्रामीणों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने  नौजल्हा व नगरिया में करोड़ों रुपए के स्पर बनवाए हैं। इससे दायां किनारा पूरी तरह सुरक्षित हो गया है।उन्होंने कहा कि  प्रयास है कि रमनगरा बुझिया में एक बड़ा प्रोजेक्ट और बनवाया जाए। इसके लिए सर्वे की तैयारी चल रही है।विधायक जी लोगों के दुख से ज्यादा अपनी और सरकार के प्रयास गिना रहे थे। जिन स्पर की वो बात कर रहे है उनकी स्थिति लोगों को डरा रही है।
इस बार बाढ़ की चपेट में नगरियाखुर्दकलां में बरसों पुराने बने स्पर की हालात गंभीर होते जा रही है। इधर सोमवार को नगरियाखुर्द, ढकिया ताल्लुके महाराजपुर के ग्रामीण इन स्परों को सही सलामत रखने को सामूहिक प्रार्थना करते देखे गए।

 

 

 

 

 

 

 

 

PANKAJ

Pankaj Pandey

Pilibhit Live Bureau

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *