पीलीभीत में खकरा नदी का जलस्तर बढ़ा, बख्शपुर गांव का पुल डूबा

पीलीभीत। झमाझम बारिश से मौसम में तो सुधार हुआ है पर नदियों का जलस्तर तेजी से बढ़ा है। देवहा और खकरा नदी का पानी निचले हिस्से में बसे कई कई गांवों तक पहुंच गया है। पुलिस लाइन से सटे गांव बख्शपुर का पुल डूब जाने से अब गांव का रास्ता ही बंद हो गया है। इधर नदी के किनारे बसे गांवों के लोगों को सतर्क कर दिया गया है। अगर बैराज से पानी रिलीज किया गया या तेज बारिश हुई तो बाढ़ का पानी आफिसर्स कालोनी और पुलिस लाइन के अलावा ग्राम चंदाई, नावकूड़, बेहरी में पानी भर सकता है। शहर से सट कर बह रही खकरा नदी का पानी किनारे स्थित मस्जिद की सीढ़ियों पर चढ़ने लगा है।

Khakra Badh3
इधर कुछ दिनों से लगातार बारिश ने मौसम को बेहतर कर दिया है। उमस भरी गर्मी से निजात तो मिली है पर नदियोें का जलस्तर भी तेजी से बढ़ा है। शारदा तो पहले ही उफान पर है और दर्जनों गांवों की सैकड़ों एकड़ फसल को निगल लिया है पर पानी कम होते ही तेजी से नदी कटान कर रही है। अब तक पचास एकड़ से अधिक जमीन नदी निगल चुकी है। दो दिन से लगातार हुई बारिश ने खकरा और देवहा नदी का जलस्तर बढ़ा दिया है। खकरा नदी का जलस्तर बढ़ने से पानी तेजी से पुलिस लाइन की तरफ बढ़ रहा है। पुलिस लाइन से सटे गांव बख्शपुर में पानी भर गया है। गांव तक पहुंचाने वाला पुल पूरी तरह पानी में डूब गया है। इस पर आवागमन रोक दिया गया है। इस के अलावा चंदोई की तरफ भी पानी बढ़ गया है। नदी के निशाने पर अब चंदोई के अलावा नावकूड़ और बेहरी गांव भी है। अगर इसी तरह बारिश होती रही तो नदी का पानी कई गांवों को अपनी चपेट में ले सकता है। फिलहाल नदियों में पानी बढ़ने से नदी के किनारे बसे गांवों के लोगों को सतर्क कर दिया गया है। देवहा और खकरा नदी का जलस्तर बढ़ने पर अक्सर पानी आफिसर्स कालोनी और पुलिस लाइन मे भर जाता है। प्रशासन निचले इलाकों से लोगों को हटाने में जुटा है। एडीएम ने खुद मौके पर पहुंच कर लोगों से उचित स्थान पर जाने को कहा है।

 

 

साकेत सक्सेना, ब्यूरो चीफ पीलीभीत  लाइव

साकेत सक्सेना, ब्यूरो चीफ पीलीभीत लाइव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *