पीलीभीत के चूका स्पाट में घुसने वालों पर दर्ज होगी रिपोर्ट

पीलीभीत। प्रतिबंध के बावजूद जबरदस्ती चूका बीच घूमना और ताला तोड़कर अंदर घुसना सपा नेता और उनके मित्रों को भारी पड़ने जा रहा है। इस मामले में आला अफसरों के सख्त रूख के बाद मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है। इस को लेकर काफी खलबली है।

chooka1
घटनाक्रम के मुताबिक एक नेता को अपने कुछ मित्रों के साथ जंगल घूमने का शौक चढ़ा। मालूम हुआ कि जंगल में प्रवेश बंद हो चुका है और इस समय जंगल में प्रवेश नहीं किया जा सकता। मित्रों ने जोश बढ़ाया तो सभी चूका बीच पहुंच गए। वहां चूका गेट के बैरियर पर ताला लगा हुआ था। पहले तो कुछ देर वन कर्मियों का इंतजार करते रहे और फिर उन्होंने बैरियर पर लगा ताला तोड़ दिया और अंदर जाकर जमकर इंज्वाय किया। खूब मौज मस्ती की गई और काफी वक्त चूका बीच पर बिताया। मामला पकड़ में न आता अगर सेल्फी की बीमारी जोर न पकड़ती। चूका पहुंचकर अलग अलग कोणों से सेल्फी ली गई और उसे सोशल मीडिया पर डाल दिया गया। एक दो नहीं बल्कि दर्जनों फोटो डाउनलोड कर दी गईं। जब यह फोटो सार्वजनिक हुईं तो धड़ाधड़ लाइक मिलने लगे। इसी बीच एक सवाल यह उठा कि जब शासन स्तर से पंद्रह जून से चैदह नवंबर तक पीलीभीत के जंगल में प्रवेश बंद कर दिया गया है तो फिर सपा नेता और उनकी मित्रमंडली कैसे चूका बीच मनोरंजन करने पहुंच गई। फिलहाल यह सवाल उठने लगे और वन विभाग के अफसरों से सवाल पूछे जाने लगे। जब आम आदमी को जंगल में जाने की इजाजत नहीं है तो यह पिकनिक कैेसे मनाई गई। जब यह मामला वन विभाग के आला अफसरों तक पहुंचा तो उनको जवाब देते नहीं बना। इधर वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल ब्यूरो के सदस्य कलीम अतहर ने जब इस की शिकायत नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अर्थारिटी के एडीजी बीएस बोनाल को अवगत कराया तो उन्होंने इसे गंभीरता से लिया और प्रमुख सचिव वन को आदेश दिए कि वह जांच कराकर कार्रवाई करें। एक शिकायत प्रधानमंत्री कार्यालय भी की गई। प्रधानमंत्री प्रोजेक्ट टाइगर के चेयरमैन होते हैं। प्रमुख सचिव ने यहां डीएफओ को निर्देशित किया कि वह जांच कर कार्रवाई करें। रेंजर महोफ मोबीन आरिफ ने बताया कि बैरियर पर ताला लगा हुआ था और कर्मचारी के घर कोई ट्रेजडी हो गई थी। वह मौका पर नहीं था। लोगों ने खुद ताला तोड़कर अंदर प्रवेश किया। उन्होंने कहा कि इस मामले में कार्रवाइ की जा रही है। आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।

 

 

साकेत सक्सेना, ब्यूरो चीफ पीलीभीत  लाइव

साकेत सक्सेना, ब्यूरो चीफ पीलीभीत लाइव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *